Brijbooti

What is rosemary called in Hindi?

Rosemary, also known as Gulmenhadi in India, is an important and aromatic plant whose scientific name is Rosmarinus officinalis. It is known by the name Gulmenhadi because it is also used in Hindi cultural rituals, and due to its aroma and properties it is a plant which helps in keeping our life lively and healthy.

Rosemary is known by many names in different languages

Hindi – Gulmehndi
Italian – rosmarino
Spanish – romero/rosmario
French – romarin
Arabic – ikleel al-jabal,
German – rosemary

benefits of rosemary

1. Make hair strong and healthy

Rosemary is an Ayurvedic medicine that provides solution to the problems of hair fall. The antioxidants and anti-inflammatory properties present in it protect your hair and scalp, keeping the hair strong and healthy. One of the properties of rosemary is its high amount of antioxidants that protect the hair from the harmful effects of the environment. The anti-inflammatory properties present in it soothe the hair scalp, thereby reducing itching and swelling of the head. Rosemary makes hair thick and strong, which improves hair fall. Massaging the hair with its oil in winter helps in protecting the hair. Also, it gets rid of the problem of dandruff and can be helpful in reducing the problems of gray hair. Using it continuously gives new energy to the hair and they remain beautiful and healthy.

2. Prevent skin related problems

Rosemary Tea, which has anti-inflammatory and antioxidant properties, helps maintain skin health. Consuming rosemary tea improves blood circulation in the skin, which provides essential properties to the skin and keeps the skin healthy. Regular consumption of rosemary tea can improve the inner fiber and blood circulation of the skin, thereby improving the complexion and health of the skin. The anti-inflammatory properties present in it can help in reducing skin irritation and inflammation, thereby reducing skin problems like eczema. This tea protects the skin from dryness and rejuvenates it. The anti-oxidants present in rosemary are helpful in protecting the skin from the harmful effects of external germs and pollution, thereby keeping the skin healthy and glowing. Regular consumption of rosemary tea can provide amazing benefits of freshness, moisture, and health to your skin. It provides new energy to the skin and protects from skin related problems.

3. Blood circulation improves

Rosemary tea is an excellent Ayurvedic plant that has anticoagulant properties, which improve blood flow in the body by stimulating the circulatory system. These properties strengthen and improve the blood vessels and this also improves heart health and prevents other inflammatory diseases. Consumption of rosemary tea helps in energizing the body. The elements present in this tea provide a good source of freshness and energy to the body, which increases working capacity. Drinking a cup of rosemary tea in between work makes a person feel refreshed and returns to his work with new enthusiasm. Regular consumption of this tea has the effect of improving blood circulation in the body, which helps in reaching all the energy cells of the body in the right amount. This provides necessary energy to all the body parts and the person feels good throughout the day. Thus, rosemary tea not only provides beauty to the skin but also helps in maintaining the health of the body.

What are the benefits of rosemary for hair?

1. Prevents hair fall

Rosemary oil is an excellent natural remedy that encourages healthy hair growth. This oil is helpful in maintaining the form, health and shine of the hair, bringing new energy and vibrancy to one’s hair. Regular use of rosemary oil improves blood circulation of the scalp, thereby preventing hair fall. This oil, rich in vitamins, minerals, and antioxidants present in it, helps in keeping the hair strong and beautiful.

2. Shiny Hair

Rosemary helps in increasing shine in hair. The properties present in it specifically remove buildup, giving hair health and shine. Rosemary plays an important role in maintaining the attractiveness of hair, making it a major beauty product. Apart from this, rosemary is also helpful in protecting the hair from rough and damaged cuticles. The elements present in it keep the hair healthy by smoothening it, making it look soft and shiny. Regular use of Rosemary gives shine and health to the hair, giving them an attractive and effective look.

3. Get rid of damaged and dry scalp

The anti-fungal properties of rosemary help in protecting the health of the scalp and provide relief from scalp problems. It not only helps in reducing itching and irritation but also provides a kind of protection against rough, damaged, and dry scalp. The use of rosemary can prevent excessive production of unwanted oil and skin cells in the scalp, which can reduce skin problems like dandruff and scalp psoriasis. This helps keep the scalp healthy, and can also be helpful in maintaining the shine and health of the hair.

4. Re-energize Scalp

It is very important for the scalp to be properly nourished for the hair to remain healthy and strong. As we age, the structure of the scalp changes, which can lead to decreased blood circulation and reduced hair volume. This can make hair look thin and lifeless. Rosemary provides a solution to this problem, as its properties increase blood circulation to the scalp and stimulate the scalp to generate new hair growth. Its regular use keeps the scalp active and helps keep the hair strong, thick, and healthy.

How to make rosemary tea?

Making rosemary tea is very simple and consuming it is beneficial for your health.

First of all, wash and clean the rosemary leaves to remove any dirt. Next, add rosemary leaves to your teapot and add boiled water. By keeping rosemary leaves in a teapot, their properties will be released well in water and will be absorbed into the tea. When the rosemary tea is ready, strain it through a strainer so that there are no remaining rosemary leaves. Now, you can add honey, lemon, or any sweetener as per your taste. Similarly, you can enjoy the taste of rosemary tea as well as its health benefits.

रोजमेरी को हिंदी में क्या कहते हैं?

रोजमेरी, जिसे भारत में गुलमेंहदी के नाम से भी पुकारा जाता है, एक महत्त्वपूर्ण और सुगंधित पौधा है जिसका वैज्ञानिक नाम रोजमारिनस ऑफिसिनैलिस (Rosmarinus officinalis) है। गुलमेंहदी नाम से इसे जाना जाता है क्योंकि इसका उपयोग हिन्दी सांस्कृतिक अनुष्ठानों में भी होता है, और इसकी सुगंध और गुणधर्मों के कारण यह एक पौधा है जो हमारे जीवन को सजीव और स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है।

रोज़मेरी को अलग-अलग भाषाओं में कई नामों से जाना जाता है

Hindi – Gulmehndi
Italian – rosmarino
Spanish – romero/rosmario
French – romarin
Arabic – ikleel al-jabal,
German – rosmarin

रोज़मेरी के फ़ायदे

1. बालों को बनाये मजबूत और स्वस्थ

रोजमेरी, एक आयुर्वेदिक औषधि है जो झड़ते बालों के समस्याओं का समाधान प्रदान करती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण आपके बालों और स्कैल्प को सुरक्षित रखते हैं, जिससे बाल मजबूत और स्वस्थ रहते हैं। रोजमेरी के गुणों में से एक उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो बालों को पर्यावरण के हानिकारक प्रभावों से बचाते हैं। इसमे मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण बालों के स्कैल्प को शांति प्रदान करते हैं, जिससे सिर की खुजली और सूजन में कमी होती है। रोजमेरी बालों को मोटा और मजबूत बनाता है, जिससे झड़ने की समस्या में सुधार होता है। इसके तेल को सर्दीयों में सर्दीयों के लिए बालों में मालिश करने से बालों की रक्षा में मदद मिलती है। साथ ही, इससे डैंड्रफ्ट की समस्या से छुटकारा मिलता है और सफेद बालों की दिक्कतों को कम करने में सहायक हो सकता है। इसका लगातार उपयोग करने से बालों को नई ऊर्जा मिलती है और वे सुंदर और स्वस्थ बने रहते हैं।

2. त्वचा संबंधी समस्याओं से बचाए

रोजमेरी टी, जिसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, रोजमेरी टी त्वचा को स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। रोजमेरी टी का सेवन करने से त्वचा में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार होता है, जिससे त्वचा को आवश्यक गुण मिलते है और यह त्वचा को स्वस्थ रखता है। रोजमेरी टी का नियमित सेवन त्वचा के अंदरीय तंतु और रक्त संचरण को सुधार सकता है, जिससे त्वचा के रंग में निखार और स्वस्थता में सुधार होता है। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण त्वचा की जलन और सूजन को कम करने में मदद कर सकता है, जिससे एग्जिमा जैसी त्वचा समस्याएं कम हो सकती हैं। यह चाय त्वचा को ड्राइनेस से बचाता है और उसे पुनर्जीवन देता है। रोजमेरी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स त्वचा को बाहरी कीटाणुओं और प्रदूषण के हानिकारक प्रभावों से बचाने में सहायक होते हैं, जिससे त्वचा स्वस्थ और चमकीली रहती है। रोजमेरी टी का नियमित सेवन आपके त्वचा को ताजगी, नमी, और स्वस्थता की अद्भुत लाभ प्रदान कर सकता है। यह त्वचा को एक नई ऊर्जा प्रदान करता है और त्वचा संबंधित समस्याओं से बचाता है |

3. ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है

रोजमेरी टी एक उत्तम आयुर्वेदिक पौधा है जिसमें एंटीकॉग्युलेंट गुण होते हैं, जो सर्कुलेटरी सिस्टम को उत्तेजित करके शरीर में रक्त का प्रवाह बेहतर बनाते हैं। यह गुण रक्तनाळियों को मजबूत करके उन्मे सुधार करते है और इससे हृदय के स्वास्थ्य में भी सुधार होती है और अन्य उत्तेजक रोगों से बचाव होता है। रोजमेरी टी का सेवन शरीर को ऊर्जा से भरपूर करने में मदद करता है। यह चाय में मौजूद तत्व शरीर को ताजगी और ऊर्जा का एक अच्छा स्रोत प्रदान करते हैं, जिससे काम करने की क्षमता में वृद्धि होती है। काम के बीच में एक कप रोजमेरी टी पीने से व्यक्ति ताजगी भरा महसूस करता है और अपने कार्यों में नए उत्साह के साथ लौटता है। इस चाय के नियमित सेवन से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को सुधारने का असर होता है, जिससे शरीर की सभी ऊर्जा सेल्स को सही मात्रा में पहुंचने में मदद होती है। इससे शरीर के सभी अंगों को आवश्यक ऊर्जा मिलती है और व्यक्ति दिनभर अच्छा महसूस करता है। इस प्रकार, रोजमेरी टी न केवल त्वचा को सुंदरता प्रदान करती है, बल्कि शरीर की स्वस्थता को भी बनाए रखने में मदद करती है।

रोजमेरी के बालों के लिए क्या फायदे हैं?

1. बालों का झड़ना रोकता है

रोज़मेरी का तेल एक उत्कृष्ट प्राकृतिक उपचार है जो बालों की स्वास्थ्यमंद ग्रोथ को प्रोत्साहित करता है। यह तेल बालों के रूप, स्वस्थता और चमक को बनाए रखने में सहायक है, जिससे व्यक्ति के बालों में नई ऊर्जा और जीवंतता आती है। रोज़मेरी तेल का नियमित उपयोग करने से स्कैल्प के ब्लड सर्कुलेशन में सुधार होता है, जिससे बालों के झड़ने को रोका जाता है। इसके अंतर्गत मौजूद विटामिन्स, माइनरल्स, और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर यह तेल, बालों को मजबूत और सुंदर बनाए रखने में मदद करता है।

2. शाइनी हेयर

रोजमेरी बालों में चमक बढ़ाने में मदद करता है। इसमें मौजूद गुण विशेष रूप से बिल्डअप को हटाते हैं, जिससे बालों को स्वस्थता और चमक मिलती है। रोजमेरी बालों को आकर्षक बनाए रखने में अहम भूमिका निभाता है और इसे एक प्रमुख सौंदर्य उत्पाद बनाता है। इसके अलावा,रोजमेरी बालों को खुरदरे और डैमेज क्यूटिकल्स से बचाने में भी सहायक होता है। इसमें मौजूद तत्व बालों को स्मूदनिंग करके उन्हें स्वस्थ बनाए रखते हैं, जिससे वे नरम और चमकदार दिखते हैं। रोजमेरी के नियमित उपयोग से बालों को निखार और स्वस्थता मिलती है, जो उन्हें एक आकर्षक और प्रभावी लुक प्रदान करता है।

3. डैमेज और ड्राई स्कैल्प से छुटकारा

रोजमेरी के एंटी-फंगल गुण स्कैल्प के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में सहायक होते हैं और स्कैल्प की समस्याओं से निजात प्रदान करते हैं। यह न केवल खुजली और जलन को कम करने में मदद करता है, बल्कि रफ, डैमेज, और ड्राई स्कैल्प के खिलाफ भी एक प्रकार की सुरक्षा प्रदान करता है। रोजमेरी के उपयोग से स्कैल्प में अनचाहें ऑयल और स्किन सेल्स की अत्यधिक उत्पत्ति को रोका जा सकता है, जिससे रूसी और स्कैल्प सोरायसिस जैसी चर्मरोगों की समस्याएं कम हो सकती हैं। इससे स्कैल्प को स्वस्थ बनाए रखने में मदद होती है, और बालों की चमक और स्वस्थता को बनाए रखने में भी सहायक हो सकता है।

4. री-एनर्जाइज़ स्कैल्प

बालों के स्वस्थ और मजबूत रहने के लिए स्कैल्प का सही नरिश होना अत्यंत महत्वपूर्ण है। जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, स्कैल्प की संरचना में परिवर्तन होता है, जिससे ब्लड सर्कुलेशन में कमी हो सकती है और बालों की मात्रा कम हो जाती है। इससे बाल पतले और बेजान दिख सकते हैं। रोज़मेरी, इस समस्या का समाधान प्रदान करती है, क्योंकि इसमें मौजूद गुण स्कैल्प के ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाते हैं और स्कैल्प को उत्तेजित करके नए बालों की ऊर्जा उत्पन्न करते हैं। इसके नियमित उपयोग से स्कैल्प सक्रिय रहता है और बालों को मजबूत, घने, और स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है।

रोज़मेरी चाय कैसे बनाएं?

रोजमेरी चाय बनाना अत्यंत सरल है और इसका सेवन आपके स्वास्थ्य के लाभ के लिए फायदेमंद होता है।

सबसे पहले, रोज़मेरी की पत्तियों को धोकर साफ करें ताकि उसमें से गंदगी निकल जाए। इसके बाद, आपकी चाय की चायदानी में रोजमेरी की पत्तियाँ डालें और उबाले गए पानी को उसमें डालें। रोजमेरी की पत्तियों को चायदानी में रखने से उनके गुण पानी में अच्छे से निकलेंगे और चाय में समाहित होंगे। जब रोजमेरी चाय तैयार हो जाए, इसे छलन से निकालें ताकि कोई बची हुई रोजमेरी की पत्तियाँ न रहें। अब, आप इसमें अपने स्वाद के अनुसार शहद, नींबू, या कोई भी स्वीटनर मिला सकते हैं। इसी तरह, आप रोजमेरी चाय के स्वाद के साथ ही इसके स्वास्थ्य लाभों का भी आनंद उठा सकते हैं।

Weight N/A
Dimensions N/A
Weight

200gm, 400gm, 800gm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “BrijBooti Rosemary Leaves For Hair Growth | Rosemary Tea | Natural Rosemary Dried Leaves – Organic Dry Herb”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Quick Cart

Add a product in cart to see here!
0